Tree Plantation

Mar 7, 2021,8:27 am

चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय जींद में पौधा रोपण किया गया। वृक्ष (पौधा) हमारे लिए बहुत महत्वपूर्ण है। पर्यावरण संरक्षण एवं पर्यावरण के प्रति जागरूकता लाने के उद्देश्य से विश्वविद्यालय में पौधा रोपण किया गया। कुलगुरु प्रोफेसर  सोमनाथ सचदेवा ने कहा कि इंसान और क़ुदरत के बीच गहरा रिश्ता रहा है। पेड़ों से पेट भरने के लिए फल-सब्ज़ियां और अनाज मिला। तन ढकने के लिए कपड़ा मिला। घर के लिए लकड़ी मिली। इनसे जीवनदायिनी ऑक्सीज़न भी मिलती हैजिसके बिना कोई एक पल भी ज़िन्दा नहीं रह सकता। इनसे औषधियां मिलती हैं। पेड़ इंसान की ज़रूरत हैंउसके जीवन का आधार हैं। अमूमन सभी मज़हबों में पर्यावरण संरक्षण पर ज़ोर दिया गया है। भारतीय समाज में आदिकाल से ही पर्यावरण संरक्षण को महत्व है। आगे बताते हुए उन्होंने कहा कि पौधा रोपन करते समय तकनीकी जानकारी होना बहुत जरूरी है, जैसे पौधे को देशांतर अक्षांश और अक्षांश देशांतर तरीके से लगाते समय उसका चित्र लेकर उसको हर महीने के बाद उसके पहले वाले चित्र से तुलना करनी चाहिए, पौधे में हुई वृद्धि के बारे में पता चलता है यह एक आधुनिक तकनीक है जिसे पौधे की आयु लंबी होती है और उसमें बढ़ोत्तरी होती है। पौधारोपण के दौरान विश्वविद्यालय के कुलसचिव डॉ राजेश बंसल, डीन एकेडमिक अफेयर प्रोफेसर एसके सिन्हा, सहायक लाइब्रेरियन डॉ अनिल कुमारडॉ अजमेरडॉ जितेंद्र कुमार, डॉ कपिलडॉक्टर नवीन लटवाल मौजूद रहे।